Astrology

Nine Forms Of Goddess Durga Puja Prasad Navratra 2018 : Durga Pooja 2018 Do Preparations Before Durga Pooja Will Starts On 10th October | दुर्गा पूजा 2018: नवरात्र में इस साल 9 दिनों की पूजा, किस देवी को कौन सा प्रसाद चढाएं – Vrat Tyohar


ma-durga

बुधवार 10 अक्टूबर से नवरात्र का आरंभ हो रहा है। बुधवार को चैत्र प्रतिपदा से शुरू होकर अगले 9 दिन देवी दुर्गा के 9 स्‍वरूपों को पूजा होगी। इसके लिए देशभर में तैयारियां कई दिन से चल रही हैं। आप भी अपने घर में माता नवरात्र पूजन की तैयारी में जुटे होंगे। मगर इसके बावजूद ऐन मौके पर कोई कमी न रह जाए। इसके लिए हम आपको बता रहे हैं कि माता के स्‍वागत के लिए क्‍या-क्‍या तैयारी करें…

घर की साफ-सफाई
नवरात्र शुरू होने से पहले घर की ठीक से साफ-सफाई होना आवश्‍यक है। हो सके तो अपने पूजा के कक्ष में फिर से रंग-रोगन करवा लें।

पूजा की सामग्री
नवरात्र से एक दिन पहले पूजा की सभी सामग्री जुटा लें। जिस जगह कलश स्थापना करें वहां हल्का पीला, हरा या गुलाबी रंग होना चाहिए। नवरात्र के नौ दिनों तक चूने और हल्दी से घर के द्वार के दोनों ओर स्वास्तिक चिह्न बनाएं। रोली या कुमकुम से पूजा स्थल के दोनों ओर स्वास्तिक बनाएं।

माता का भोग
मां दुर्गा के 9 स्‍वरूपों में किस दिन कौन सा भोग लगाना है कि इसकी व्‍यवस्‍था पहले से ही कर लें। 9 दिनों के हिसाब से माता के पसंदीदा भोग की सामग्री जुटा लें। पहले दिन माता को घी से बनी वस्तुओं का भोग लगाएं, दूसरे दिन शक्कर का भोग लगाएं, तीसरे दिन दूध और दूध से बनी चीजों का भोग लगाएं, चौथे दिन मालपुए का भोग लगाएं, पांचवें और छठे दिन दिन शहद अर्पित करें, सातवें दिन माता को गुड़ से बनी चीजें अर्पित करें, आठवें दिन मां के गौरी रूप को नारियल के लड्डू और नारियल अर्पित करें और नवें दिन नौ प्रकार के 9 अन्न का भोग लगाएं।

अखंडज्‍योति की तैयारी
अखंड ज्योति को पूजन स्थल के आग्नेय कोण में रखना चाहिए। अखंड ज्‍योति के स्‍थान पर साफ-सफाई और शुद्धता का विशेष ख्‍याल रखना चाहिए।

कलश स्‍थापना
माता की मूर्ति या तस्वीर के सामने कलश मिट्टी के ऊपर रखकर हाथ अक्षत, फूल और गंगाजल लेकर वरुण देवता का आह्वान करें। कलश में सर्वऔषधि और पंचरत्‍न डालकर 9 दिनों तक मां की सच्‍चे मन से आराधना करने का संकल्‍प लें।




Source link

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close
Skip to toolbar