Current Affairs

Seventeen people die in road accidents every hour in India Report in hindi

सड़क परिवहन मंत्रालय द्वारा 09 अक्टूबर 2018 को हाल ही में सड़क हादसों से सम्बंधित रिपोर्ट जारी की गई. इस रिपोर्ट में देश में सड़क हादसों के बारे में जानकारी दी गई है.

सड़क परिवहन मंत्रालय की इस रिपोर्ट के अनुसार सड़क दुर्घटनाओं में पिछले साल एक लाख 47 हजार 913 मारे गए और चार लाख 70 हजार 975 लोग घायल हुए हैं.

रिपोर्ट के मुख्य बिंदु

•    देश में पिछले साल सड़क दुर्घटनाओं और इनमें मरने वालों की संख्या लगातार दूसरे साल घटी है जो पहले साल के मुकाबले क्रमश: 3.3 और 1.9 प्रतिशत कम है.

•    इस आंकड़े के अनुसार हर दिन 1273 सड़क दुर्घटनाएं हुईं जिममें हर दिन 405 लोगों की मौत हुई.

•    इस हिसाब से देश में हर घंटे 17 लोगों को सड़क हादसों में जान गंवानी पड़ रही है.

•    रिपोर्ट के अनुसार देश में 15 राज्यों में सबसे ज्यादा 65 हजार 562 सड़क दुर्घटनाएं तमिलनाडु में हुई लेकिन सबसे ज्यादा 20 हजार 174 लोग उत्तर प्रदश में मारे गए.

•    इस दौरान तमिलनाडु में मरने वालों की संख्या 16 हजार 157 रही और वह दूसरे स्थान पर रहा.

•    इस दौरान उत्तर प्रदेश में कुल 38 हजार 783 सड़क दुर्घटनाएं हुई.

राज्यवार आंकड़े

•    शीर्ष 15 राज्यों में 12 हजार 264 मौतों के साथ महाराष्ट्र तीसरे स्थान पर है जबकि 10 हजार 609 मौतों के साथ कर्नाटक चौथे स्थान पर है.

•    इसी प्रकार 10 हजार 444 मौतों के साथ राजस्थान पांचवें स्थान पर है.

•    इस क्रम में कर्नाटक में 42 हजार 542 तथा महाराष्ट्र में 35 हजार 8523 और राजस्थान में 27 हजार 112 सड़क दुर्घटनाएं हुईं.

•    मृतकों की संख्या के हिसाब से राजस्थान 10 हजार 177 मौतों के साथ छठे स्थान पर है बिहार पांच हजार 554 मौतों के साथ 11वें और पांच हजार 120 मौतों के साथ हरियाणा 12वें स्थान पर है.

•    सूची में पंजाब चार हजार 468 मौतों के साथ 14वें तथा छत्तीसगढ चार हजार 136 घटनाओं के साथ 15वें स्थान पर है.

•    मध्य प्रदेश में इस दौरान 53 हजार 399, हरियाणा में 11 हजार 258 तथा तथा बिहार में आठ हजार 855 सड़क दुर्घटनाएं हुई हैं.

•    छत्तीसगढ में इस अवधि में 13 हजार 563 तथा पंजाब में छह हजार 273 घटनाएं हुई हैं.

 

यह भी पढ़े: भारत और ताजिकिस्तान के मध्य नौ समझौतों पर हस्ताक्षर

 




Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close
Skip to toolbar