Astrology

Chanakya Niti : According To Chanakya Neeti We Should Be Alert While Contacting These People | चाणक्य नीति: ये 6 तुरंत जान ले लेते हैं, जरूरी है सतर्क रहना – Others


आचार्य चाणक्य ने अपनी नीतियों में बताया है कि हर व्यक्ति को अपने जीवन में किन 6 चीजों के साथ संभलकर व्यवहार करना चाहिए। क्योंकि इनसे व्यवहार में जरा-सी चूक हमारी जान ले सकती है। कौन-सी हैं ये 6 चीजें और क्यों इनसे संभलकर रहना चाहिए, आइए जानते हैं…

1/6आग से सावधानी है जरूरी



आचार्य चाणक्य कहते हैं कि आग के साथ संभलकर व्यवहार करना चाहिए। आग के उपयोग में की गई जरा-सी चूक हमारा सब कुछ जलाकर राख कर सकती है। जैसे, दीये के रूप में जल रही अग्नि जितनी पवित्र और दिव्य होती है, वही अग्नि थोड़ी-सी असावधानी से विकराल और घातक रूप धारण कर सकती है।

2/6जल जीवन है और इसकी प्रलय मृत्यु



जल का उपयोग करते समय हमें अतिरिक्त सावधानी बरतनी चाहिए। हम सभी जानते हैं कि पीने योग्य पानी का स्तर लगातार गिर रहा है। विचारक तो यहां तक कहते हैं कि अगर तीसरा विश्व युद्ध हुआ तो उसका कारण पीने का पानी होगा। हम समझ सकते हैं कि जल कितना सीमित है। इसलिए हमें इसका उपयोग करते समय कंजूसी करनी चाहिए। गौर करने लायक बात यह है कि चाणक्य के युग में पानी का कोई अभाव नहीं था। फिर भी उनकी दूरदर्शिता ने युगों आगे के लिए जरूरी बात दुनिया को बताई।

3/6स्त्री कमसिन भी है और कयामत भी



चाणक्य कहते हैं कि महिलाओं के साथ व्यहार करते समय अति सतर्कता बरतने की जरूरत होती है। क्योंकि इनके साथ किया गया उचित व्यवहार जहां समाज में मान-सम्मान का अधिकारी बनाता है, वहीं व्यवहार में हुई जरा-सी चूक सारी प्रतिष्ठा को धूमिल कर सकती है। इसलिए किसी भी महिला के संपर्क में आने पर बातचीत और व्यवहार पर नियंत्रण रखना बेहद जरूरी है।

4/6मूर्ख खुद को सबसे बुद्धिमान समझते हैं



आचार्य कहते हैं कि मूर्ख व्यक्ति से वैसे तो जितना संभव हो सके दूरी ही रखनी चाहिए। लेकिन किन्ही परिस्थितियों में अगर आपको उनके संपर्क में आना भी पड़े तो व्यवहार में अतिरिक्त सावधानी आवश्यक है। इसकी बुद्धि के बारे में कुछ भी कहना संभव नहीं है। ये सही बात को भी किस तरह गलत लेकर उसके गलत साबित करने पर जुट जाएं, कोई नहीं जान सकता। फिर मूर्खों को समझाने का काम सिर्फ ईश्वर ही कर सकते हैं।

5/6सांप से सचेत रहें, सतर्कता बरतें



आचार्य के अनुसार, शांत पड़ा हुआ सांप कब मूड बदलते ही या हल्की से आहट से आप पर हमला बोल दे, इस बारे में कुछ भी कहा नहीं जा सकता। इसलिए सांप को सड़क पर शांत पड़ा देखकर कभी भी उसके नजदीक से नहीं गुजरना चाहिए और न ही उसे छेड़ना चाहिए।




Source link

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close
Skip to toolbar