Current Affairs

Top 10 Weekly Current Affairs in hindi 08 October to 13 October 2018

जागरण जोश डॉट कॉम अपने पाठकों के लिए पूरे सप्ताह से चुनिंदा एवं महत्वपूर्ण टॉप-10 साप्ताहिक करेंट अफेयर्स घटनाक्रम प्रस्तुत कर रहा है. इससे परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों को काफी लाभ हो सकता है.

1. महिला और बाल विकास मंत्रालय ने #MeToo पर जांच समिति गठित की

महिला और बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने #MeToo के तहत आए मामलों की जांच करने के लिए एक कमेटी गठित करने की घोषणा की है. वरिष्ठ न्यायविद् और कानून के पेशे से जुड़े लोग इसके मेंबर होंगे और सारे मामलों की जांच करेंगे. देश भर में #MeToo कैंपेन के तहत आ रहीं यौन शोषण की शिकायतों के बीच मोदी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है.

गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों में केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर और सिनेमा जगत की कई हस्तियों के खिलाफ #MeToo के तहत यौन उत्पीड़न की शिकायतें आई हैं. मेनका गांधी ने इन शिकायतों की जांच के लिए कमेटी की घोषणा की है.

 

2. वोडाफोन ने महिला सुरक्षा सेवा ‘वोडाफोन सखी’ की शुरुआत की

भारत में अग्रणी दूरसंचार सेवा प्रदाता वोडाफोन-आइडिया ने महिलाओं की सुरक्षा पर आधारित सेवा ‘वोडाफोन सखी’ की शुरुआत की. कंपनी का कहना हे कि वोडाफोन के नंबर का इस्तेमाल करने वाली महिलाएं मुफ्त में इस सेवा का इस्तेमाल कर सकती हैं, इस पहल के माध्यम से उन्हें कुछ विशेष सेवाएं उपलब्ध कराई गई हैं.

प्रसिद्ध बैडमिंटन खिलाड़ी पी वी सिंधु ने इस सेवा की शुरुआत करते हुए ‘अब रूके क्यूं’ अभियान का उद्घाटन किया. यह सेवा फीचर और स्मार्ट दोनों तरह के फोन पर निशुल्क उपलब्ध होगी. इस सेवा के तहत संकट के समय में महिलाएं बिना इंटरनेट और बैलेंस के भी दस लोगों को अलर्ट भेज सकेंगी.

 

3. वैज्ञानिकों ने विश्व की पहली बायोइलेक्ट्रिक मेडिसिन विकसित की

अमेरिका की नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी तथा वाशिंगटन यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ़ मेडिसिन द्वारा दावा किया गया है कि उन्होंने विश्व की पहली बायोइलेक्ट्रिक मेडिसिन विकसित की है. बायोइलेक्ट्रॉनिक दवा एक किस्म की वायरलेस डिवाइस होती है, इसे शरीर के बाहर एक ट्रांसमीटर द्वारा नियंत्रित किया जा सकता है.

वैज्ञानिकों का कहना है कि इस दवा को शरीर में इम्प्लांट किया जा सकता है. यह एक बायोडिग्रेडेबल वायरलेस डिवाइस है जो तंत्रिकाओं के रीजनरेशन तथा क्षतिग्रस्त तंत्रिकाओं के उपचार में सहायक है. माना जा रहा है कि यह खोज भविष्य में तंत्रिका कोशिकाओं के उपचार के लिए काफी उपयोगी सिद्ध हो सकती है.

 

4. आईपीसीसी ने जलवायु परिवर्तन से संबंधित रिपोर्ट जारी की

जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र की संस्था इंटरगर्वमेंटल पैनल ऑफ क्लाइमेट चेंज (आईपीसीसी) ने 08 अक्टूबर 2018 को अपनी रिपोर्ट जारी की है. रिपोर्ट में चेतावनी दी गई है कि ग्रीन हाउस गैसों के मौजूदा उत्सर्जन स्तर को देखते हुए 2030  तक दुनिया का तापमान 1.5 डिग्री तक बढ़ जाएगा.

रिपोर्ट में कहा गया है कि भारतीय उपमहाद्वीप में भी इसके भयानक परिणाम होंगे. आईपीसीसी की सह-अध्यक्षा डेब्रा रॉबर्ट्स के मुताबिक, आने वाले कुछ साल मानव इतिहास के लिए सबसे अहम साबित होने वाले हैं. रिपोर्ट में बताया गया है कि ग्लोबल वॉर्मिंग की वजह से जलवायु में बदलाव के असर समय से पहले दिखाई देने लगे हैं.

 

5. भारत दुनिया में सबसे तेज गति से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था: आईएमएफ

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ने कहा है कि अगर अनुमान सही रहा तो भारत फिर से दुनिया में सबसे तेज गति से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बना रहेगा. आईएमएफ ने वितीय वर्ष 2018 के लिए भारत की विकास दर का अनुमान 7.3 प्रतिशत रखा है, जबकि वित्तीय वर्ष 2019 के लिए यह अनुमान 7.4 प्रतिशत कर दिया है.

वित्तीय वर्ष 2017 में भारत की विकास दर 6.7 प्रतिशत रही थी. आईएमएफ ने ताजा वर्ल्ड इकोनॉमिक आउटलुक रिपोर्ट में कहा है कि भारत की विकास दर वर्ष 2018 में 7.3 प्रतिशत रहने का अनुमान है और 2019 में यह 7.4 प्रतिशत रहेगी. हालांकि यह अप्रैल 2018 में वर्ष 2019 के लिए वर्ल्ड इकोनॉमिक आउटलुक रिपोर्ट से थोड़ा कम है.

 

6. भारत और ताजिकिस्तान के मध्य नौ समझौतों पर हस्ताक्षर

भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की अध्यक्षता में ताजिकिस्तान के राष्ट्रपति इमामोली रहमान के साथ 08 अक्टूबर 2018 को प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता आयोजित की गई. इस बैठक में दोनों देशों ने नौ द्विपक्षीय समझौतों पर हस्ताक्षर किये. राष्ट्रपति कोविंद ने वार्ता के दौरान ताजिकिस्तान की आतंकवाद से लड़ने की प्रशंसा की और सीमापार आतंकवाद सहित आतंकवाद से लड़ने में मजबूत समन्वय की जरूरत पर जोर दिया.

भारत और ताजिकिस्तान के प्रतिनिधियों के मध्य हुई द्विपक्षीय वार्ता के बाद रक्षा, अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी, आपदा प्रबंधन, संयोजक परियोजना, संस्कृति, आयुष, अक्षय ऊर्जा, युवा एवं खेल सहित नौ समझौतों पर हस्ताक्षर किये गये.

 

7. आयुष्मान योजना का दूसरी बार लाभ लेने के लिए आधार जरूरी

हाल ही में शुरू की गई आयुष्मान भारत- प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (एबी-पीएमजेएवाई) के तहत पहली बार लाभ प्राप्त करने के लिए ‘आधार’ अनिवार्य नहीं है. लेकिन इस योजना के तहत दूसरी बार इलाज के लिए आधार अनिवार्य होगा. यह बयान राष्ट्रीय स्वास्थ्य एजेंसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) इंदू भूषण ने दिया है.

इंदू भूषण ने कहा कि अगर आधार नहीं है तो लाभार्थी को कम से कम यह साबित करने के लिए दस्तावेज पेश करने होंगे कि वे 12 अंक की विशिष्ट पहचान संख्या के लिए पंजीकरण करवा चुके हैं. यह कदम ऐसे समय पर आया है, जब सुप्रीम कोर्ट आधार योजना को संवैधानिक रूप से वैध ठहरा चुका है.

 

8. पटना में एशिया के पहले डॉल्फिन रिसर्च सेंटर की स्थापना की घोषणा

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने हाल ही में घोषणा की है कि पटना में डॉल्फिन रिसर्च सेंटर की स्थापना की जाएगी. यह एशिया का पहला डॉल्फिन रिसर्च सेंटर होगा जिसे इतने बड़े पैमाने पर बनाया जा रहा है. लगभग 28 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले राष्ट्रीय डॉल्फिन अनुसंधान केंद्र का निर्माणकार्य जल्द ही शुरू किया जायेगा.

पटना विश्वविद्यालय परिसर में दो एकड़ भूखंड पर इस केंद्र का निर्माण किया जायेगा. इसके अतिरिक्त मुंगेर में एक ‘ऑब्जरबेटरी’ का निर्माण कराया जा रहा है, जहां से डॉल्फिनों को देखा जा सकेगा. गंगा नदी में जाकर डॉल्फिन देखने की व्यवस्था जल्द कराई जाएगी.

 

9. भारत 2022 तक दुनिया का 11वां सबसे अमीर देश होगा: बीसीजी रिपोर्ट

बॉस्टन कंसल्टिंग ग्रुप (बीसीजी) के मुताबिक साल 2022 तक भारत दुनिया का 11वां सबसे अमीर देश बन जाएगा. आने वाले समय में भारतीयों की संपत्त‍ि काफी तेजी से बढ़ने वाली है. यह रिपोर्ट बॉस्टन कंसल्ट‍िंग ग्रुप (बीसीजी) ने जारी की है.

निजी संपत्ति के मामले में 2022 तक भारत दुनिया का 11वां सबसे अमीर देश बन जाएगा. इस तरह वर्ष 2017 के मुकाबले भारत की रैंकिंग चार पायदान से बढ़ जाएगी. इस दौरान देश की निजी संपत्ति में 13 प्रतिशत बढ़ोतरी का अनुमान है. तीन साल बाद यह मौजूदा 3 लाख करोड़ डॉलर से बढ़कर 5 लाख करोड़ डॉलर हो जाएगी.

 

10. भारतीय वायु सेना ने मोबाइल हेल्थ ऐप शुरू किया

भारतीय वायु सेना ने अपनी 86वीं वर्षगांठ पर ‘डिजिटल इंडिया, आयुष्‍मान भारत और‍ मिशन इन्‍द्रधनुष’ के बारे में प्रधानमंत्री के सपने को ध्‍यान में रखते हुए ‘मेडवाच’ नामक एक मोबाइल हेल्‍थ ऐप की शुरूआत की है.

इस ऐप की कल्‍पना भारतीय वायुसेना के चिकित्‍सकों ने की है और इसे बहुत कम लागत पर सूचना प्रौद्योगिकी निदेशालय द्वारा अपने देश में विकसित किया गया है. वायु सेना प्रमुख, एयर चीफ मार्शल बी. एस. धनोआ पीवीएसएम एवीएसएम वाईएसएम वीएम एडीसी ने वायु सेना दिवस पर 08 अक्‍टूबर 2018 को इसकी शुरूआत की.

यह भी पढ़ें: रेलवे ग्रुप डी (Railway Group D): डेली करेंट अफेयर्स प्रैक्टिस सेट और स्टडी मटेरियल

यह भी पढ़ें: सितंबर 2018 के टॉप 30 महत्वपूर्ण करेंट अफेयर्स घटनाक्रम

 

 




Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close